24 C
Patna
Tuesday, December 6, 2022

पटना के अल्फा Sports एकेडमी में IKF का सेलेक्शन ट्रायल संपन्न

Must read

पटना। इंडिया खेलो फुटबॉल (आईकेएफ) और अल्फा Sports एकेडमी के संयुक्त तत्वावधान में और बिहार फुटबॉल संघ के सहयोग दोदिवसीय उदीयमान फुटबॉलरों का सेलेक्शन ट्रायल पटना के अल्फा sports एकेडमी में रविवार को संपन्न हुआ। इस ट्रायल से सेलेक्ट होने वाले खिलाड़ियों के लिए यूरोप में खेलने और आई लीग का सदस्य का सुनहरा अवसर मिलेगा। आईकेएफ के इस ट्रायल में अंडर-15 और अंडर-17 के ब्वॉयज खिलाड़ी और अंडर-17 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया।

अल्फा sports एकेडमी के निदेशक सुमित प्रकाश ने कहा कि इस ट्रायल में कुल छह राज्यों के कुल 350 खिलाड़ियों से हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि इनमें से 25 खिलाड़ियों का चयन किया जायेगा। इन 25 खिलाड़ियों का सबसे पहले यहां कैंप लगेगा। इसके बाद इन खिलाड़ियों को दिल्ली होने वाले फाइनल में ले जाया जायेगा। इसके बाद बेहतर प्रदर्शन करने वालों को यूरोप समेत अन्य जगहों में खेलने का मौका दिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि फुटबॉल को बढ़ाने के लिए हमें ग्रासरुट पर काम करना होगा। अल्फा Sports एकेडमी इस पर काम कर रहा है। हमने अपने एकेडमी में पूरी सुविधा के साथ अभ्यास कराते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे एकेडमी में पढ़ाई के साथ के फुटबॉल खेलने का बेहतर मौका मिलेगा। उन्होंने कहा कि अल्फा Sports एकेडमी टैलेंट सर्च करने का काम कर रहा है। हम टैलेंट सर्च करेंगे और उन्हें बेहतर प्लेटफॉर्म तक पहुंचाने का काम करेंगे। हम बच्चों को उस लेवल पर पहुंचाना चाहते हैं जहां से वे नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर पहुंच चुके हैं।

उन्होंने कहा कि हमारे लिए खुशी की बात है कि अल्फा Sports एकेडमी बिहार की पहली ऐसी एकेडमी या टीम बनने जा रही है जो आईलीग खेलने के पैमाने को पूरा करता है और हमें और खुशी तब मिलेगी जब हमारी टीम आईलीग में खेलते हुए नजर आयेगी।

इस मौके पर बिहार फुटबॉल संघ के सचिव सैयद इम्तियाज हुसैन ने कहा कि हमारा संगठन अल्फा Sports एकेडमी को बधाई देता हूं जिन्होंने फुटबॉल को बढ़ाने का बीड़ा उठाया है। उन्होंने कहा कि अल्फा sports एकेडमी में फुटबॉल सीखने से लेकर आगे बढ़ने की हर सुविधा मौजूद है और यह पूरे बिहार फुटबॉल जगत के लिए अच्छी बात है।

आईकेएफ से सुरेश सेवा ने कहा कि अल्फा sports एकेडमी में फुटबॉल का बेहतर माहौल है। उन्होंने कहा कि इस एकेडमी की व्यवस्था को देखकर मैं बहुत खुश हूं। उन्होंने कहा कि बिहार फुटबॉल में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि इन प्रतिभाओं को आगे लाने के लिए आईकेएफ और अल्फा Sports एकेडमी काम कर रही है। उन्होंने कहा कि बच्चे मेहनती हैं। उनके मनोबल को बढ़ाने का काम है।

 

 

 

 

 







More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article