24 C
Patna
Saturday, December 10, 2022

छठी बार श्रीलंका के सिर सजा एशिया कप क्रिकेट का ताज

Must read

दुबई। श्रीलंका ने भानुका राजपक्षे (71 नाबाद) के अर्द्धशतक और प्रमोद मदुशन (चार विकेट) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत पाकिस्तान को एशिया कप फाइनल में रविवार को 23 रन से हराया। श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 171 रन बनाये थे, जिसके जवाब में पाकिस्तान 147 रन पर ऑलआउट हो गयी।

छठी बार एशिया कप जीतने वाली श्रीलंका ने 58 रन पर पांच विकेट गंवा दिये थे, लेकिन राजपक्षे ने संकटमोचक की भूमिका निभाते हुए 45 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों की बदौलत 71 रन की पारी खेली और टीम को 171 रन के स्कोर तक पहुंचाया।

पाकिस्तान 172 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए कभी भी आवश्यक रनगति हासिल नहीं कर सकी। मोहम्मद रिजवान ने पाकिस्तान के लिये 49 गेंदों पर 55 रन की आपराधिक पारी खेली, जबकि इफ्तिखार अहमद ने 31 गेंदों पर 32 रन बनाये। दोनों बल्लेबाजों ने आपस में 71 रन की साझेदारी के लिये 59 गेंदें खेलीं जिसके कारण आखिरी ओवरों में पाकिस्तान के लिये आवश्यक रनगति हासिल करना बेहद मुश्किल हो गया। मदुशन ने चार ओवर में 34 रन के बदले चार विकेट लेकर पाकिस्तानी बल्लेबाजी की कमर तोड़ी, जिसमें कप्तान बाबर आजम का विकेट भी शामिल था।

पाकिस्तान ने टॉस जीतकर श्रीलंका को पहले बल्लेबाजी के लिये बुलाया और सलामी बल्लेबाज कुसल मेंडिस (शून्य) पहले ओवर में ही नसीम शाह की बेमिसाल इनस्विंगर की भेंट चढ़ गये।

पथुम निसंका ने 11 गेंदों पर आठ रन बनाये और रनगति बढ़ाने के प्रयास में हारिस रउफ की गेंद पर बाबर आजम को कैच थमा बैठे। धनन्जय डि सिल्वा ने चार बेहतरीन चौके लगाये लेकिन वह भी 21 गेंदों पर 28 रन ही बना सके। दनुष्का गुनतिलक (01) और कप्तान दसुन शनाका (02) के न्यून स्कोरों पर आउट होने के बाद श्रीलंका ने 58 रन पर पांच विकेट गंवा दिये थे, मगर राजपक्षे और हसरंगा ने मोर्चा संभाला और छठे विकेट के लिये 58 रन की बहुमूल्य साझेदारी की। हसरंगा ने राजपक्षे का साथ देते हुए 21 गेंदों की पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाकर 36 रन बनाये। हसरंगा के आउट होने के बाद राजपक्षे ने चमिका करुणारत्ने (14 नाबाद) के साथ सातवें विकेट के लिये 54 रन जोड़े और 20वें ओवर की आखिरी दो गेंदों पर एक चौके और एक छक्का लगाकर टीम को 20 ओवर में 170/6 के स्कोर तक पहुंचाया।

पाकिस्तान की ओर से हारिस रउफ ने चार ओवर में 29 रन देकर तीन विकेट लिये, जबकि नसीम शाह (चार ओवर, 40 रन), शादाब खान (चार ओवर, 28 रन) और इफ्तिखार अहमद (तीन ओवर, 21 रन) को एक-एक विकेट हासिल हुआ। मोहम्मद हसनैन ने चार ओवर में 41 रन लुटाये और एक भी विकेट नहीं ले सके।

श्रीलंका ने 171 रन के लक्ष्य की रक्षा करते हुए पहली आधिकारिक गेंद डाले बिना नौ रन दिये। दिलशन मदुशंका ने पहले ओवर में एक नो बॉल और आठ वाइड डालीं, हालांकि उन्होंने कुल 12 रन देकर इस ओवर को समाप्त किया।

प्रमोद मदुशन ने चौथे ओवर में कप्तान बाबर आजम (05) और फखर जमान (शून्य) को लगातार गेंदों पर पवेलियन लौटाया। मोहम्मद रिजवान और इफ्तिखार अहमद ने तीसरे विकेट के लिये 71 रन की साझेदारी की लेकिन इसके लिये उन्होंने 59 गेंदें खेलीं।

इस साझेदारी के कारण पाकिस्तान को अंतिम छह ओवर में 74 रन चाहिये थे और निचले क्रम के बल्लेबाज दबाव में ढेर हो गये। चमिका करुणारत्ने ने 16वें ओवर में मोहम्मद नवाज (06) को आउट किया। बल्ले से 36 रन का योगदान देने वाले हरफनमौला हसरंगा ने 17वें ओवर में रिजवान, खुशदिल शाह (02) और आसिफ अली (शून्य) को पवेलियन लौटाया, जिसके बाद पाकिस्तान की जीत की उम्मीदें समाप्त हो गयीं।

चमिका करुणारत्ने ने 20वें ओवर की आखिरी गेंद पर हारिस रउफ (13) का विकेट लिया और श्रीलंका की जीत पर मुहर लगायी।

मदुशन के चार विकेट और हसरंगा के तीन विकेट विकेट के अलावा चमिका करुणारत्ने ने दो विकेट लिये, जबकि तीक्षणा को एक विकेट हासिल हुआ।

आर्थिक संकट से जूझ रही श्रीलंका ने छह साल के बाद एशिया कप का खिताब जीता है, जबकि पिछली बार उन्होंने 2014 में यह ट्रॉफी उठायी थी। दसुन शनाका की टीम अब अगले महीने ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के लिये क्वालीफायर मुकाबलों का रुख करेगी।

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article