26 C
Patna
Friday, September 30, 2022

लंदन टेस्ट : इंग्लैंड 135 रन से जीता, एशेज सीरीज 2-2 से ड्रॉ

Must read

लंदन। इंग्लैंड ने द ओवल मैदान पर जारी एशेज सीरीज के पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को ऑस्ट्रेलिया के सामने 399 रनों का लक्ष्य रखा है। अपनी पहली पारी में 294 रन बनाने के बाद इंग्लैंड ने जोफ्रा आर्चर (62-6) की शानदार गेंदबाजी के दम पर आस्ट्रेलिया की पहली पारी 225 रनों पर सीमित कर दी थी। इसमें स्टीवन स्मिथ के 80 रन शामिल हैं।

इसके बाद इंग्लैंड ने जो डेनले (94) और बेन स्टोक्स (67) की धारदार बल्लेबाजी की बदौलत अपनी दूसरी पारी में 329 रन बनाए और मेहमान टीम के सामने 399 रनों का लक्ष्य रखा।
ऑस्ट्रेलिया की ओर से दूसरी पारी में नेथन लॉयन ने सबसे अधिक चार विकेट लिए जबकि पैट कमिंस, पीटर सिडल और मिशेल मार्श को दो-दो सफलता मिली। ऑस्ट्रेलिया के 399 रन आज के बाकी बचे 85.3 तथा अंतिम दिन के 90 ओवरों में बनाने हैं। सीरीज में अभी ऑस्ट्रेलिया 2-1 से आगे है।

स्टुअर्ट ब्रॉड और जैक लीच के चार-चार विकेटों की बदौलत इंग्लैंड ने यहां द ओवल मैदान पर खेले गए एशेज सीरीज के पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को आस्ट्रेलिया को 135 रनों से हरा दिया।

इस जीत के बाद इंग्लैंड की टीम पांच मैचों की एशेज सीरीज 2-2 से ड्रॉ कराने में सफल रही। सीरीज ड्रॉ होने के बावजूद आस्ट्रेनिया का एशेज सीरीज पर कब्जा बरकरार है। आस्ट्रेलिया ने पिछली बार एशेज सीरीज जीती थी, इसलिए यह एशेज आस्ट्रेलिया के पास ही बरकरार रहेगी।

सीरीज ड्रॉ होने से इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया को विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के लिए 56-56 अंक मिले।

पांच मैचों की एशेज सीरीज का पहला मैच आस्ट्रेलिया ने 251 रन जीता था जबकि दूसरा मैच ड्रॉ रहा था। इसके बाद तीसरा टेस्ट मैच मेबजान इंग्लैंड ने एक विकेट से जीता था।

आस्ट्रेलिया ने फिर चौथा टेस्ट मैच 185 रन से जीतकर सीरीज में 2-1 की बढ़त ले ली थी। लेकिन इंग्लैंड ने पांचवां और अंतिम टेस्ट 135 रनों से जीतकर सीरीज 2-2 से ड्रॉ करा दी।

इंग्लैंड ने पहली पारी में 294 रन बनाए थे जबकि उसने आस्ट्रेलिया को 225 रन पर ऑल आउट करके 69 रनों की बढ़त हासिल कर ली थी। इसके बाद इंग्लैंड ने अपनी दूसरी पारी में 329 रन का स्कोर बनाया और आस्ट्रेलिया के सामने मैच जीतने के लिए 399 रनों का विशाल लक्ष्य रखा।

इसके लक्ष्य के जवाब में आस्ट्रेलियाई टीम 77 ओवर में 263 रन पर ऑल आउट हो गई और उसे 135 रनों से हार का सामना करना पड़ा। आस्ट्रेलिया के लिए मैथ्यू वेड ने 166 गेंदों पर 17 चौकों और एक छक्के की मदद से 117 रनों की पारी खेली। उन्होंने अपने करियर का चौथा और इस सीरीज का दूसरा शतक लगाया।

वेड का यह शतक भी हालांकि आस्ट्रेलिया की हार का नहीं टाल सका। वेड के अलावा स्टीवन स्मिथ 23 रन बनाकर दूसरे सर्वोच्च स्कोरर रहे।

इंग्लैंड से मिले 399 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा कर रही आस्ट्रेलिया ने चायकाल के बाद पांच विकेट पर 167 रन से आगे खेलना शुरू किया।

चायकाल के बाद वेड ने 60 और कप्तान टिम पेन ने अपनी पारी को 10 से आगे बढ़ाया। आस्ट्रेलिया को छठा झटका 200 के स्कोर पर पेन के रूप में लगा। पेन ने 34 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 21 रन बनाए।

मेहमान टीम ने इसके बाद 244 के स्कोर पर पैट कमिंस (9) को सातवें विकेट के रूप में, 260 के स्कोर पर वेड को आठवें विकेट के रूप में खोया।

कंगारूओं ने फिर से 263 के स्कोर पर नाथन लॉयन (1) के रूप में अपना नौंवां और जोश हैजलवुड (0) के रूप में अपना 10वां विकेट भी गंवा दिया। पीटर सिडल 18 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 13 रन पर नाबाद रहे।

उनके अलावा मार्कस हैरिस ने नौ, डेविड वॉर्नर ने 11, मार्नस लाबुशाने ने 14 और मिशेल मार्श ने 24 रन बनाए।

इंग्लैंड के लिए ब्रॉड और लीच के चार-चार विकेटों के अलावा कप्तान जोए रूट ने दो विकेट लेकर आस्ट्रेलिया को ऑल आउट करने में अहम योगदान दिया।

मैच की पहली पारी में छह विकेट लेने वाले इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफरा आर्चर को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।

इसके अलावा आस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ और इंग्लैंड के बेन स्टोक्स को संयुक्त रूप से प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला। स्टोक्स ने सीरीज के 10 पारियों में 441 रन बनाने के अलावा आठ विकेट भी चटकाए जबकि स्मिथ ने सात पारियों में 774 रन बनाए।

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

error: Content is protected !!