32 C
Patna
Tuesday, July 16, 2024

भारत की युवा निशानेबाज वलारिवान ने जीता पहला सीनियर विश्वकप स्वर्ण

नईदिल्ली। भारत की युवा निशानेबाज एलावेनिल वलारिवान ने ब्राजील की राजधानी रियो डी जेनेरो में वर्ष के चौथे और आखिरी आईएसएसएफ विश्वकप राइफल/पिस्टल टूर्नामेंट के पहले दिन शानदार शुरुआत करते हुए महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीत लिया।
वलारिवान का अपने पदार्पण सीनियर वर्ष में अपना पहला सीनियर विश्वकप स्वर्ण पदक जीता। उनकी हमवतन और विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता अंजुम मुद्गिल ने वर्ष के अपने तीसरे विश्वकप फाइनल में जगह बनायी लेकिन वह पांचवें स्थान पर रहीं।
वलारिवान ने फाइनल में 251.7 का स्कोर किया जबकि ब्रिटेन की सियोनेड मैकिनटोश को 250.6 के स्कोर के साथ रजत पदक मिला। ताइपे की यिंग शिन लिन ने कांस्य पदक जीता और इस स्पर्धा में टोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल कर लिया।
दूसरा कोटा ईरान के हिस्से में गया। भारत ने इस साल महिला 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में चार विश्वकप में तीन में स्वर्ण पदक जीत लिए हैं। गुजरात के वलारिवान ने क्वालिफिकेशन में 629.4 का स्कोर कर चौथा स्थान हासिल किया था।
मुद्गिल का स्कोर 629.1 रहा था और वह पांचवें स्थान पर रहकर आठ निशानेबाजों के फाइनल में पहुंची थीं। विश्व की नंबर एक और फाइनल्स की विश्व रिकॉर्डधारी अपूर्वी चंदेला 627.7 के स्कोर के साथ 11वें स्थान पर रह गईं।
महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में अनुराज सिंह ने प्रीसिजन चरण में 292 का स्कोर किया और वह रैपिड फायर राउंड से पहले 12वें स्थान पर हैं। चिंकी यादव 290 का स्कोर कर 17वें और अभिदन्या अशोक पाटिल 286 का स्कोर कर 43वें स्थान पर हैं।
पुरुषों की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन स्पर्धा में पहले एलिमिनेशन राउंड में संजीव राजपूत 1170 का स्कोर किया और वह 14वें स्थान पर हैं। पारुल कुमार 1169 के स्कोर के साथ 10वें और चयन सिंह 1163 के स्कोर के साथ 27वें स्थान पर हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest Articles

error: Content is protected !!
Verified by MonsterInsights