43 C
Patna
Saturday, June 15, 2024

बीडब्ल्यूएफ ने नये ‘स्पिन सर्विस’ पर लगाया अंतरिम प्रतिबंध

नईदिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन में नई ‘स्पिन सर्वस’ की बढ़ती लोकप्रियता के बीच इस खेल की वैश्विक शासी निकाय बीडल्यूएफ ने 29 मई 2023 तक इस पर अंतरिम प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

डेनमार्क के युगल खिलाड़ी मार्कस रिंडशोज ने पिछले महीने पोलिश ओपन में इस स्पिन सर्विस से अंक अर्जित किए और तभी से विश्व भर के खिलाड़ी इसमें अपना हाथ आजमाने की कोशिश कर रहे हैं।

विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) के बयान के मुताबिक, ‘‘ बीडब्ल्यूएफ परिषद ने तत्काल प्रभावी 29 मई 2023 तक नये ‘स्पिन सर्व’ के उपयोग पर रोक लगाने के लिए बैडमिंटन के नियमों में ‘प्रायोगिक बदलाव’ के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।’’

इसमें कहा गया, ‘‘ यह अंतरिम प्रतिबंध बीडब्ल्यूएफ के सभी स्वीकृत अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों पर लागू होगा, जिसमें रविवार 14 मई से शुरू होने वाला सुदीरमन कप फाइनल और अगले सप्ताह प्रस्तावित मलेशिया मास्टर्स 2023 भी शामिल है।’’

स्पिन सर्विस में खिलाड़ी शटलकॉक के कॉर्क को अपने अंगूठे और बीच की उंगली के बीच में रखता है और फिर उसे रैकेट से मारने के समय कैरम स्ट्राइक की गति से उसे स्पिन कराने की कोशिश करता है । विरोधी टीम के खिलाड़ियों को इस तरह की सर्विस को वापस करना मुश्किल होता है।

बीडब्ल्यूएफ के बयान के मुताबिक, ‘‘ बैडमिंटन के बीडब्ल्यूएफ कानून की धारा 4.1 के 9.1.5 के संशोधन में अब कहा गया है कि सर्विस करने वाला खिलाड़ी बिना स्पिन की मदद लिये शटल को रैकेट से हिट करेगा। इसके पालन में किसी भी विफलता को ‘फॉल्ट’ माना जायेगा।’’

बीडब्ल्यूएफ के अध्यक्ष पोल-एरिक हॉयर ने कहा, ‘‘बीडब्ल्यूएफ हमारे खेल में नवाचार करने वाले खिलाड़ियों का स्वागत करता है और कोर्ट पर प्रतिस्पर्धा को बनाये रखने के लिए तकनीकों के प्रयोग का समर्थन करता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमें हालांकि बीडब्ल्यूएफ एथलीट आयोग सहित बैडमिंटन समुदाय से ऐसी प्रतिक्रिया मिली जिसमें कहा गया है कि यह ‘स्पिन सर्विस’ खेल पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। यह देखा गया है कि यह ‘साइडेक सर्विस’ (राशिद साइडक के नाम पर) से काफी मिलता जुलता है, जिस पर प्रतिबंध है।’’

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest Articles

error: Content is protected !!
Verified by MonsterInsights