30 C
Patna
Wednesday, April 24, 2024

फुटबाल : विश्व कप क्वालीफायर में भारत ने कतर को गोलरहित ड्रॉ पर रोका

दोहा। भारतीय टीम ने मंगलवार को यहां जासिम बिन हमाद स्टेडियम में खेले गए फीफा विश्व कप-2022 क्वालीफायर टूर्नामेंट के अपने दूसरे मैच में अपने से मजबूत टीम और एशियाई चैम्पियन कतर को गोलरहित ड्रॉ पर ही रोक दिया। कतर जैसी मजबूत टीम को रोकना आसान नहीं था लेकिन सुनील छेत्री के बिना उतरी भारत ने मजबूत रक्षापंक्ति के दम पर गोल नहीं होने दिया। छेत्री की कमी बेशक टीम को आक्रमणपंक्ति में खली। छेत्री बुखार के कारण इस मैच में नहीं उतरे। उनकी जगह कप्तानी कर रहे संदेश झिंगान ने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया और डिफेंस में टीम के लिए बड़ा योगदान दिया।

शुरुआत से ही कतर ने हावी होने की कोशिश की और लगातार मौके बनाए लेकिन भारतीय डिफेंस ने उसकी हर कोशिश को अंजाम से महरूम ही रखा। मैच का पहला सही मौका भारत ने सातवें मिनट में बनाया था। उदांता सिंह और मनवीर की जोड़ी ने कतर के डिफेंस में सेंध लगाते हुए गेंद अनिरुद्ध थापा को दी जिन्होंने पुजारी को पास दिया। पुजारी ज्यादा देर तक गेंद अपने पास रखने की गलती कर बैठे और कतर ने उनसे मौका छीन लिया।

17वें मिनट में मेजबान टीम को लगातार दो कॉर्नर मिले जिन पर हालेम गेंद को सही दिशा में नहीं रख पाए। कतर ने अब लय पकड़ ली थी। उसने 19वें और 21वें मिनट में दो अच्छे मौके फिर बनाए। पहले मौके पर संदेश ने रोड़ा डाला तो दूसरे मौके पर भारत के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू ने गोल नहीं होने दिया।

25वें मिनट में गुरप्रीत को पीला कार्ड भी थमा दिया गया। 26वें मिनट में कतर ने भारतीय खेमे को अभी तक की सबसे बड़ी चिंता दी। खोखी ने हैडर लिया जो गोलपोस्ट के करीब से बाहर चला गया। भारत की आक्रमणपंक्ति भी ठहरी नहीं थी। वह भी लगातार कोशिश कर मौके बना रही थी। दोनों टीमों का डिफेंस मजबूती से काम कर रहा था इसी कारण पहले हाफ का अंत गोलरहित रहा।

भारत दूसरे हाफ में थोड़ी ज्यादा आक्रामक दिखी। 51वें मिनट में उसने सहल अब्दुल समद के दम पर गोल का सूखा खत्म करने की कोशिश की जो पूरी नहीं हो सकी। अगले मिनट में ही सहल ने उदांता को पास दिया। भारतीय खिलाड़ी अपने शॉट को सही मुकाम नहीं दे पाए और गोल नहीं हो सका।

संदेश ने इस बीच कतर के अलमोएज को टैकल करते हुए उन्हें मौके नहीं बनाने दिए। भारत को 56वें मिनट में एक झटका लगा। रोवलिन बोर्जेस ने हायडोस पर फाउल कर दिया था जिसके कारण उन्हें येलो कार्ड दिया गया। यह भारत का इस मैच में दूसरा येलो कार्ड था। दो मिनट बाद कतर के असीम ओमेर अल हाज माडिबो को भी येलो कार्ड मिला।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

Verified by MonsterInsights