इस अवार्ड पर पूरे बिहार का अधिकार : आशुतोष अमन

0
223
ashutosh aman (2)

शैलेंद्र कुमार
Shailendra kumarपटना।
सर्वश्रेष्ठ घरेलू क्रिकेटर का यह अवार्ड हमें नहीं मिला है, इस पर पूरे बिहार का अधिकारी है। मैंने ईमानदार से मेहनत की और सफलता मिली। यह बातें सिएट इंटरनेशनल क्रिकेट अवार्ड में सर्वश्रेष्ठ घरेलू क्रिकेटर का पुरस्कार जीतने वाले आशुतोष अमन ने कही।

खेलढाबा.कॉम के विशेष संवाददाता से बातचीत में आशुतोष अमन ने कहा कि बिहार रणजी टीम के कोच सुब्रतो बनर्जी सर ने मुझे विश्वास दिलाया था कि आप सीजन के सभी मैच खेलेंगे। उनका विश्वास ही मेरे लिए प्रेरणा का स्रोत बना। साथ ही मैं बिहार क्रिकेट संघ के सचिव रविशंकर प्रसाद सिंह को भी धन्यवाद दिया जिन्होंने बिहार से खेलने का मौका दिया। उन्होंने बिहार के सभी सेलेक्टरों और गया जिला क्रिकेट संघ के सभी पदाधिकारियों को भी धन्यवाद किया जिसने उनमें प्रतिभा देखी।

आशुतोष ने कहा कि वर्तमान रणजी टीम के सदस्य केशव कुमार, बाबुल, मंगल महरुर, समर कादरी सहित अन्य से भी काफी उम्मीदें हैं। सभी अच्छे खिलाड़ी हैं। जूनियर खिलाड़ियों में अर्णव किशोर, आकाश राज और पीयूष कुमार सिंह भी काफी प्रतिभा है।

उन्होंने कहा कि बिहार क्रिकेट को उच्च स्तर पर पहुंचाने के लिए आधारभूत सरंचना की सख्त जरुरत है। बिहार क्रिकेट संघ के पदाधिकारियों ने इस स्तर में बहुत प्रयास किया है। आशुतोष अमन ने उदीयमान क्रिकेटरों से कहा कि वे सिर्फ क्रिकेट पर ध्यान दें। अच्छा करेंगे तो मान-सम्मान के साथ कैरियर भी बनेगा और पैसा भी बरसेगा।

उन्होंने कहा कि लाइफ में आगे बढ़ने के लिए कभी शार्टकर्ट विधि नहीं अपनायें। उन्होंने कहा कि पैसा कमाने के बाद क्रिकेटर क्रिकेट को नहीं भूलें। पैसा अच्छाई और बुरानई दोनों साथ लाता है इसीलिए ऐसी स्थिति में संभल कर काम करें। मेहनत से कभी भागे नहीं, सफलता आपके कदमों को चूमेंगीं।

बिहार के बाएं हाथ के स्पिनर आशुतोष अमन ने सत्र 2018-19 के रणजी ट्रॉफी के एक सत्र में कुल 68 विकेट चटकाये थे। उन्होंने अपना 65वां विकेट हासिल कर महान क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी को पीछे छोड़कर रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज कराया था। बिहार रणजी टीम के कप्तान आशुतोष अमन ने प्लेट ग्रुप के आठ मुकाबलों उन्होंने 68 विकेट लेकर 44 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया था। रणजी के 1974-75 सत्र में बिशन सिंह बेदी ने 64 विकेट लिया था। अमन ने करीब 6.68 की औसत से ये विकेट झटके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here