बिहार अंडर-19 क्रिकेट सेलेक्शन : कोई बताए मधुबनी के हर्ष नंदा का नाम कहां से आया था

0
987

पटना। यह कौन खेल है भाई जरा कोई समझाए। न इसने नाम दिया और न ही उसने (यानी दूसरा गुट ने)। फिर कहां से आ गया है यह प्लेयर लिस्ट में जरा कोई बताए। जब नाम देने का था पांच तो छठा कहां से आ गया है। ऐसे यह छठे, सातवें का केस और जगह से हुआ पर उस संघ द्वारा छठे का केस महत्व रखता है क्योंकि वे गलत नहीं होने देने की बात करते हैं। जी हां हम बात कर रहे हैं कूच बिहार ट्रॉफी अंडर-19 क्रिकेट टूर्नामेंट के लिए चुनी जा रही बिहार टीम की चयन प्रक्रिया के बारे में और मामला है मधुबनी का।

मधुबनी से रमण कुमार सिंह ने सेलेक्शन ट्रायल के लिए तीन प्लेयरों का लिस्ट भेजा जिसमें विजय कुमार, सूरज कुमार और अरविंद राजपूत शामिल हैं।
दूसरे गुट (कालीचरण जिसके सचिव हैं) ने इस ट्रायल के लिए जो नाम ईमेल के जरिए छह प्लेयरों का जो लिस्ट भेजा है उसमें रितविक राजेश, प्रेम प्रियांक, गौतम कुमार सिंह, सोनू कुमार हिमांशु, मयंक कुमार, आदर्श कुमार शामिल हैं।

रमन सिंह वाले गुट के तीन में किसी का 80 प्लेयरों वाले लिस्ट में नाम नहीं है। हो सकता है ये तीनों चयनकर्ता की नजर में अच्छे नहीं होंगे। कालीचरण गुट वाले गुट में से छह में से आदर्श को छोड़ पांच का चयन किया गया।
पर बिहार क्रिकेट एसोसिएशन ने कुछ दिन पहले 80 प्लेयरों का जो लिस्ट जारी किया है उसमें मधुबनी से हर्ष नंदा नाम का खिलाड़ी की इंट्री कैसे हो गई।
इस संबंध में खेलढाबा.कॉम ने दोनों गुटों के पदाधिकारियों/प्रतिनधियों से बात की। रमण सिंह गुट वाले ने कहा कि हमने तीन प्लेयर का लिस्ट भेजा था। खेलढाबा.कॉम ने उनके लिस्ट के प्लेयरों का नाम पढ़कर दूरभाष पर बताया तो उधर से जवाब आया यही सही है।

इस संबंध में विमल गुट के सचिव कालीचरण ने कहा कि आपने जो छह नाम हमें बताया है वह लिस्ट हमने भेजी है। एक प्लेयर आदर्श का नाम हमारे संघ द्वारा अतिरिक्त के रूप में भेजा गया था जिसमें कहा गया था कि आपके के विवेक पर इसे देखना चाहते हैं तो देख लें।

अब सवाल यह उठता है कि जब इन दोनों संघों ने हर्ष नंदा ने नहीं भेजी तो किसने भेजी। अगर बिहार क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा मिस प्रिंट हुआ तो अभी तक किसी ने पर आवाज उठाई है कि नहीं। आखिर इस प्लेयर की इंट्री किसके द्वारा कराई गई इस बात से पर्दा तो बिहार क्रिकेट एसोसिएशन ही उठा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here